सीखें इंटीरियर कोर्स - पार्ट XIV -क्या होता है डीपीसी ? घर बनाने से पहले किन बातो पर दें विशेष ध्यान Part-II

आज हम जानेंगे क्या होती है घर बनाने से पहले किन किन बातो पर विशेष ध्यान देना चाहिए मिट्टी का निरीक्षण,प्लानिंग करवाना,नक़्शे को सरकार द्वारा पास कराना,बोरिंग & वेस्टेज टैंक,हार्वेस्टिंग का नियोजन,निर्माण शुरू करने से पहले डीपीसी,और पिंथ  बीम तक काम करने वो क्या होता है डीपीसी के बारे में।

हम जब किसी प्रकार की कंस्ट्रक्शन करते हैं, तो हमे एक  प्रोसेस से  गुजरना होता है,आज हम उसी प्रोसेस के शुरुवाती प्रोसेस को जानने की कोशिश करेंगे, और समझेंगे।

Home Design-Construction & Interior Home
Home Design-Construction & Interior Home 
#Interior designer in Noida #Interior designers in Delhi #Decoration Idea #Interior designer near me #vastu shastra tips #whystuck #parttime jobs सीखें इंटीरियर डिज़ाइनर कोर्स (Learn Interior Designer Course) (Whystuck-Shape your Plan)

Today we will know what happens, what should be given special attention before building a house, soil inspection, planning, getting the map passed by the government, planning of boring & wasteage tanks, harvesting, DPC before starting construction, and pintha What does DPC do about working up to the beam.
When we do some kind of construction, we have to go through a process, today we will try to understand the initial process of that process, and understand it.

हम यहाँ पर कोई बड़े  प्रोजेक्ट की बात नहीं करेंगे ,हम यहाँ पर सिर्फ घर को बनाने की पद्वति को जानने की कोशिश करेंगे।
वैसे तो आज की आधुनिकता के दौर में और समय के आभाव में यह कार्य स्वयं न करवाके किसी और से करवाया जाता है ,और यह करवाना उचित और तर्कसंगत भी है,क्योकि मशीनी युग में हर दिन नयी तकनीकें आने  से यह कार्य अब एक व्यसाय का रूप ले  चुका है।
Home Design-Construction & Interior Home
Home Design-Construction & Interior Home 
By the way, in today's modernity and lack of time, this work is done by not having someone else do it themselves, and it is also reasonable and logical to do it, because in the machine age, with the introduction of new technologies every day, this work is now a business Has taken shape

तो चलिए शुरू करते हैं।
So let's start.

मिट्टी का निरीक्षण :- सबसे  पहला काम जब भी हम किसी नए निर्माण को शुरू करते हैं,तो हम उस मिटटी का परीक्षण करके यह  जानते हैं,उस मिट्टी में कितनी नमी है,इसके जानने का मुख्य कारण नमी का ट्रीटमेंट करने के प्रोसेस को शुरू करने के लिए होता है।

Soil Inspection: - Whenever we start a new construction, the first thing we do is to test the soil and know how much moisture is there in that soil, the main reason for knowing that the process of treating moisture starts. Happens to do.


प्लानिंग करवाना :-  मिटटी के परीक्षण के साथ साथ आप प्लानिंग अपने घर की प्लानिंग कीजिये,अगर आप इस काम में किसी प्रोफेशनल आर्किटेक्ट की मदद लें तो बेहतर रहता है। इस  प्लानिंग में आप दिशाओ,रौशनी,पानी की उपलब्धता,बारिश के पानी का नियोजन,बेसमेंट, सीवर,बिजली और फ्लोर प्लानिंग के साथ ही आपका घर अंदर से और और बाहर से  कैसे दिखेगा उसका विवेचन इस प्लानिंग में जरूर होना चाहिए आगे चलकर  यह प्लानिंग ही पूरे कार्य  का आधार बनती है  अभी यह प्रचलन के साथ साथ एक जरूरत भी बनता जा रहा है।इसमें जो विवेचना अंदर से आपके घर के डिज़ाइन के साथ की जाती है ,उसे ही इंटीरियर डिजाइनिंग कहते हैं।

Home Design-Construction & Interior Home/Planning
Home Design-Construction &am

Copyright 2019. © All rights reserved.

Terms & Conditions | Privacy Policy